Home » प्रदेश » उत्तर प्रदेश » सरकार जल्दी ही देगी 4 लाख नौकरियां : योगी

सरकार जल्दी ही देगी 4 लाख नौकरियां : योगी

लखनऊ। सूबे के मुखिया योगी आदित्यानाथ ने आज सोमवार को अपनी सरकार ​के एक वर्ष पूरा होने के मौके पर प्रदेश के अन्नदाताओं को तोहफा देते हुए उन्हे अपने खेत से जरूरत के मुताबिक मिट्टी की खोदाई करने की छूट देने के साथ रायल्टी फ्री कर दिया। इस मौके पर योगी ने कहा कि किसान को यह आजादी मिलनी चाहिए कि अपनी जरूरत के लिए मिट्टी अपनी जमीन से निकाल लें।

गौरतलब हो कि अभी तक यूपी के किसानों को अपने हीखेत से मिट्टी खोदने पर रायल्टी जमा करनी पड़ती थी। उप्र के उपचुनावों में किसानों ने जरूरत के लिए मिट्टी निकालने में होने वाली दिक्कत व पुलिस हस्तक्षेप की ढेरों शिकायतें की थी। यह भी बता दें कि उप्र के किसानों को अपने काम के लिए 10 ट्राली मिट्टी निकालने का अधिकार था। जबकि अन्य कार्यों के लिए रायल्टी देनी होती थी। किसान को मिट्टी निकालने के लिए डीएम के यहां अर्जी देनी होती थी।

योगी सरकार के एक वर्ष पूरे होने पर सोमवार को लोकभवन में लोक नृत्य व संगीत कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक सहित पूरा मंत्रिमंडल मौजूद था। राज्य में किसी सरकार के एक साल पूरा होने पर इस तरह का कार्यक्रम पहली बार आयोजित किया गया। इस दौरान अपनी उपलधियां का बखान करते हुए योगी ने कहा कि उनकी सरकार जल्दी ही 4 लाख नौकरियां देगी। जिसकी भर्ती प्रक्रिया जल्दी ही शुरू की जाएगी।

यह भर्तियां पुलिस, शिक्षा विभाग, नगर निगमां, राजस्व आदि विभागों में की जाएगीं। योगी के सम्बोधन के दौरान ऐसा लग रहा था कि योगी सरकार दो लोकसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में हारने के सदमें से खुद को मुक्त कर चुकी है।भ्रष्टाचार से लड़ाई की अपने संकल्प को दोहराते हुए योगी ने भ्रष्टाचार के मामलों पर सीधी कार्रवाई के लिए एक पोर्टल लांच किया है। जिसमें भ्रष्टाचार से जुड़े दस्तावेज और वीडियों अपलोड किये जा सकेगें।

जिस पर सरकार कार्रवाई करेगी। योगी ने कहा कि इससे प्रदेश में भ्रष्टाचार की कमर टूटेगी। बिगड़ी हुई व्यवस्था को सुधारने की कोशिश है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की हालत वर्षो से बिगड़ी हुई है। भ्रष्टाचार के खिलाफ एक साल में 192 अधिकारियों को अनिवार्य सेवा निवृत्ति दी गई है। 415 अधिकारियों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई शुरू हुई है। प्रदेश में नकल विहीन परीक्षा का जिक्र करते हुए कहा कि राज्य में नकल कराने के करोड़ों के ठेके होते थे। हमने नकल रोक दिया। 12 लाख लोगों ने परीक्षा छोड़ी। जब जांच की गई तो पता चला कि ये लोग यूपी के बाहर के यानी मुन्नाभाई थे।

About namste

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*