Don't Miss
Home » देश » उग्रवादियों को अपना भाई मानता है ये पीडीपी विधायक

उग्रवादियों को अपना भाई मानता है ये पीडीपी विधायक

श्रीनगर। एक तरफ जम्मू-कश्मीर में भारतीय फौज जहां आतंकवादियों का समूल नष्ट करने में दिन रात अपनी जान की बाजी लगाकर जुटी है वहीं इस प्रदेश में भाजपा के सहारे सरकार चला रही पीडीपी के एक विधायक ने इस मसले पर विवादित बयान दिया है जिसे सुनकर पूरा देश सन्न है। बता दें कि पीडीपी विधायक एजाज अहमद मीर ने कहा कि कश्मीर के आतंकी शहीद हैं और वे हमारे भाई हैं। इनमें से कुछ तो नाबालिग हैं, जिन्हें यह नहीं पता है कि वह क्या कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि उग्रवादियों की मौत पर हमें जश्न नहीं मनाना चाहिए वे कश्मीर के ही निवासी हैं।मीर के इस बयान के बाद पीडीपी के साथ साथ भाजपा के गठबंधन पर भी सवाल उठने लगे हैं। बताते चलें कि इससे पहले भी पीडीपी नेताओं के बयान भाजपा को असहज करते रहे हैं। धारा 370, अनुच्छेद 35A समेत कई मसलों पर पीडीपी नेताओं ने बीजेपी को मुश्किल में डालने वाले बयान दिए हैं।

इस बीच केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने मीर के बयान पर कहा, ‘आतंकी और अलगाववादी कश्मीर, कश्मीरियों, शांति और विकास के दुश्मन हैं। वे किसी के भाई कैसे हो सकते हैं?’ जम्मू-कश्मीर विधानसभा में चल रहे शीतकालीन सत्र से बाहर आते हुए मीर मीडिया से बातचीत में कहा, ‘यह हमारी सामूहिक विफलता है। हम हमारे सुरक्षा बलों के जवानों के शहीद होने पर दुखी हैं। उनके परिवार वालों के प्रति हम सहानुभूति रखते हैं साथ ही उग्रवादियों के माता-पिता के साथ भी।’बता दें कि जम्मू-कश्मीर पुलिस ने भी स्थानीय उग्रवादियों/आतंकवादियों से आतंक का रास्ता छोड़कर घर वापस लौटने की गुजारिश की है। साथ ही हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है। जम्मू -कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कश्मीर में जारी हिंसा को रोकने के लिए बीते रविवार को पाकिस्तान के साथ बातचीत शुरू करने की वकालत की थी। इस पर मीर ने कहा कि अब समय आ गया है कि हुर्रियत, उग्रवादियों और दूसरे पक्षकारों से कश्मीर मुद्दे पर बात की जाए ताकि इस खूनी संघर्ष को रोका जा सके।

About namste

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*