Home » प्रदेश » उत्तर प्रदेश » धार्मिक स्थलों से लाउडस्पीकर्स हटाने की तैयारी शुरू,मचा हड़कंप

धार्मिक स्थलों से लाउडस्पीकर्स हटाने की तैयारी शुरू,मचा हड़कंप

वाराणसी। कोर्ट के फैसले के बाद धार्मिक स्थलों से लाउडस्पीकर हटाने को लेकर वाराणसी पुलिस ने कवायद तेज कर दी है। इसके बाद हर तरफ हड़कंप मचा है। देश के प्रधान सेवक नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में पुलिस की नजरें धार्मिक स्थलों के साथ-साथ शादी व अन्य धार्मिक आयोजन पर भी टिकी है, क्योंकि इन आयोजनों में भी बिना परमिशन लाउडस्पीकर बचाने का चलन है। अब ऐसे आयोजनों में भी लाउडस्पीकर या स्पीकर लगाने के लिए पुलिस की परमिशन लेनी पड़ेगी।

एसएसपी आरके भारद्वाज के मुताबिक कोर्ट का आदेश सिर्फ धार्मिक स्थलों पर लाउडस्पीकर के लिए नहीं है। यह आदेश सभी सार्वजनिक स्थलों पर लाउडस्पीकर या स्पीकर लगाने को लेकर दिया गया है, जिसके तहत शादी, दुर्गा पूजा व अन्य धार्मिक आयोजन जैसे अखंड रामायण, कीर्तन और जागरण जैसे कार्यक्रम भी शामिल हैं। एसएसपी के मुताबिक यदि अब कोई भी बिना परमिशन के लाउडस्पीकर लगाता है तो उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

एसएसपी का कहना है कि परमिशन का प्रोसेस बहुत आसान है। अगर किसी को लाउडस्पीकर लगाने की परमिशन लेनी है, तो या तो संबंधित थाने से संपर्क करें या फिर सिटी मजिस्ट्रेट के यहां एप्लीकेशन दें। वहीं इस बारे में एसपीआरए अमित कुमार का कहना है कि लाउडस्पीकर और स्पीकर को लेकर कोर्ट का आदेश काफी पुराना है। उनका कहना है कि 45 से 50 डेसीबल तक के शोर पर दिक्कत नहीं है, लेकिन इसके ऊपर का शोर परेशानी का सबब बन जाता है।

कोर्ट के आदेश के बाद धार्मिक स्थलों से बिना परमिशन के लाउडस्पीकर हटाने को लेकर भी वाराणसी पुलिस ने कार्यवाही तेज कर दी है। एसएसपी ने बताया कि इसके लिए पहले साइलेन्स जोन में मौजूद लाउडस्पीकर को चिह्नित किया जाएगा। अस्पताल, स्कूल और कोर्ट एरिया के आसपास पहले जांच की जाएगी। इसके बाद बाकी सभी को नोटिस दिया जाएगा।

About namste

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*