Don't Miss
Home » प्रदेश » उत्तर प्रदेश » क्रिसमस की बधाई देने पर मोहम्मद कैफ पर फूटा देवबंदी उलेमाओं का गुस्सा

क्रिसमस की बधाई देने पर मोहम्मद कैफ पर फूटा देवबंदी उलेमाओं का गुस्सा

सहारनपुर। ईसा मसीह का जन्म दिवस यानी क्रिसमस की बधाई देने के बाद क्रिकेटर मोहम्मद कैफ देवबंदी उलेमाओं के गुस्से का शिकार बन गए । उन्हें धर्म को लेकर लगातार ट्विटर पर लोगों की मशविरा मिल रहा है। वहीं अरबी विद्वान मौलाना नदीम उल वाजदी का कहना है कि क्रिकेटर और फिल्मी दुनिया से जुड़े लोगों को मजहब के नजरिए से देखना गलत है। बताते चलें कि कैफ ने अपनी पत्नी की फोटो फेसबुक पर अपलोड कर क्रिसमस की बधाई दी थी। मोहम्‍मद कैफ ने अपनी और अपनी पत्‍नी की फोटो फेसबुक पर अपलोड कर क्रिसमस की बधाई दी थी, जिसके बाद कैफ देवबंदी उलेमाओं के निशाने पर आ गये हैं। उलेमाओं ने कैफ को इस्‍लाम से दूर बताने के साथ साथ साथ सच्‍चा मुसलमान बनने की नसीहत भी दे डाली।

वहीं दूसरी ओर अरबी विद्वान मौलाना नदीम उल वाजदी का कहना है कि जो सच्चे मुसलमान होते हैं, वह अपने मजहब के पाबंद होते हैं। जहां तक क्रिकेट खेलने वाले और फिल्मी दुनिया से जुड़े लोगों की बात है तो उनको मजहब के नजरिए से देखना गलत है। मौलाना ने कहा कि ये लोग मजहबी लोग नहीं हैं और न ही इनका माहौल इस्लामी होता है। उनका अपना नजरिया है, जिनके तहत इस तरह की चीजें करते हैं। इनको मजहब के नजरिए से नहीं देखें।

About namste

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*