Home » देश » मोदी की सरपरस्ती में 3 घंटे की बातचीत में सुलझ गया बड़ा विवाद

मोदी की सरपरस्ती में 3 घंटे की बातचीत में सुलझ गया बड़ा विवाद

नई दिल्ली। भारत और चीन के बीच डोकलाम को लेकर 73 दिनों से चल रहे विवाद को महज 3 घंटे में सकारात्मक बातचीत से सुलझाने को भारत की बड़ी कूटनीतिक जीत माना गया। मीडिया ने वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों के हवाले से बताया कि डोकलाम को लेकर चल रहे तनाव को खत्म करने में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग की सक्रिय भूमिका रही।

रिपोर्ट के मुताबिकचीन में भारत के राजदूत विजय गोखले को 27 अगस्त की शाम को बीजिंग ने बताया कि वह उनसे जल्द मुलाकात करना चाहते है और गोखले उस समय हॉन्ग कॉन्ग में थे। फिर उन्होंने बीजिंग के लिए फ्लाइट पकड़ी और वहां पहुंचे। इसके बाद देर रात 2 बजे चीनी विदेश मंत्रालय के अधिकारियों के साथ गोखले ने मुलाकात की और दोनों पक्षों के बीच करीब 3 घंटे की बातचीत चली, जिसने इस गतिरोध को खत्म करने के साथ ही BRICS समिट से इतर सकारात्मक बातचीत की नींव रखी।

गौरतलब हो कि डोकलाम को लेकर भारत और चीन के बीच दो महीनों से ज्यादा समय से तनातनी चल रही थी। डोकलाम क्षेत्र सिक्किम के पास भारत-चीन-भूटान ट्राइजंक्शन पर स्थित है।

About namste

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*