Don't Miss
Home » प्रदेश » उत्तर प्रदेश » देवबंद उलेमाओं की मुस्लिमों से अपील, गाय की कुर्बानी ना दें

देवबंद उलेमाओं की मुस्लिमों से अपील, गाय की कुर्बानी ना दें

सहारनपुर। वैसे ऐसा पहली बार देखा जा रहा है जब बकरीद आने से पहले कुर्बानी को लेकर देश भर में बहस होती दिखायी दे रही है। कहीं ईद के मौके पर कुर्बानी को शरीयत में जायज बताया जा रहा है तो कहीं इस्लाम में हराम। वहीं दारुल उलूम देवबंद के उलेमाओं ने ईद-उल-जुहा के मौके पर गाय की कुर्बानी नहीं देने की नसीहत दी है।

देवबंद के उलेमाओं का कहना है कि किसी भी मुसलमान को ऐसा काम नहीं करना चाहिए जिससे दूसरों की धार्मिक भावनाओं को तकलीफ ना पहंचे । उलेमाओं ने कहा कि मुसलमान गाय की कुर्बानी न करें, बाकी जानवरों की कुर्बानी कर सकते हैं। गौरतलब है कि दारुल उलूम देवबंद भी गाय की कुर्बानी न करने को लेकर फतवा भी जारी कर चुका है।
उलेमा-ए-हिन्द के राष्ट्रीय अध्यक्ष व प्रसिद्ध मौलाना अरशद मदनी ने कहा कि मुसलमानों को बकरीद पर ऐसे जानवरों की कुर्बानी करनी चाहिए, जिससे कि हिन्दू भाइयों को कोई तकलीफ न हो।

उन्होंने कहा कि मुसलमान गाय की कुर्बानी से परहेज करें और दूसरे जानवरों की कुर्बानी करें। वहीं दारुल उलूम वक्फ के शेखुल हदीस मौलाना अहमद खिजर शाह मसूदी ने कहा कि ईद-उल-जुहा के दिन हमें किसी भी ऐसे स्थान पर कुर्बानी नहीं करनी चाहिए, जिससे किसी अन्य धर्म के लोगों को परेशानी हो। मुसलमानों को चाहिए कि वे ईद-उल-जुहा पर गाय की कुर्बानी न करें। वहीं मंडलायुक्त ने कहा कि प्रशासन को मुस्लिम भाइयों द्वारा बकरा समेत दीगर जानवरों की कुर्बानी पर कोई एतराज नहीं है लेकिन गाय को लेकर सख्ती से पाबंदी रहेगी।

About namste

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*