Home » प्रदेश » उत्तर प्रदेश » दलितो के बाद अब माया को सताने लगा गायों का दर्द

दलितो के बाद अब माया को सताने लगा गायों का दर्द

संजना
लखनऊ। लोकसभा और विधानसभा के चुनावों में मोदी की आंधी में साफ हो चुकी बहुजन समाज पार्टी की सर्वेसर्वा मायावती को दलितों के बाद अचानक गायों की तकलीफों का दर्द सताने लगा है।

इस दर्द के उभरने के पीछे भी उनकी राजनीतिक सोशल इंजीनियरिंग नज़र आ रही है। माया इस बात से अच्छी तरह वाकिफ हो चुकीं हैं कि उनका दलितों का मसीहा बनने का ख्वाब मोदी और अमित शाह ने चकनाचूर कर दिया है।

वो अब लाख प्रयास करने के बाद भी दलित और पिछड़े वर्ग में अपना पुरान मुकाम हासिल नहीं कर पायेंगी। इसीलिये अब मायावती भाजपा के खास कार्ड को खेलने के लिये कोशिश करने लगीं हैं।

इसी उद्देश्य के तहत माया ने भारतीय जनता पार्टी पर तंज कसते हुए सवाल किया कि गायें तड़प-तड़प कर मर रही हैं। आखिर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ और भाजपा के लोग चुप क्यों हैं।

मायावती ने आज अपने एक बयान में कहा कि भाजपा सरकार के सुशासन में इन्सानी जानमाल की कोई कीमत नहीं है। अब तो गौ माताओं पर भी आफत आ गयी है। भाजपा शासित राज्यों में भ्रष्टाचार के कारण सरकारी मदद वाली गौशालाओं में भी गायें भूखी-प्यासी रहकर तड़प-तड़प कर मर रही हैं।

About namste

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*