Don't Miss
Home » विदेश » टर्नबुल का भारत के प्रति प्रेम नहीं एक दिखावा था

टर्नबुल का भारत के प्रति प्रेम नहीं एक दिखावा था

कैनबेरा। आॅस्ट्रेलिया ने बढ़ती बेरोजगारी से निपटने के लिये 95,000 से अधिक अस्थायी विदेशी कर्मचारियों द्वारा उपयोग किये जा रहे वीजा कार्यक्रम को समाप्त कर दिया है। इन कर्मचारियों में ज्यादातर भारतीय हैं इस कार्यक्रम को 457 वीजा के नाम से जाना जाता है।457 वीजा के तहत कंपनियों को उन क्षेत्रों में चार साल तक विदेशी कर्मचारियों को नियुक्त करने की अनुमति थी जहां कुशल आस्ट्रेलियाई कामगारो की कमी है। प्रधानमंत्री मैलकॉम टर्नबुल ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया एक आव्रजन देश हैं लेकिन…आस्ट्रेलियाई कामगारों को अपने देश में रोजगार में प्राथमिकता मिलनी चाहिए इसीलिए ऑस्ट्रेलिया सरकार 457 वीजा समाप्त कर रही है।बताते चलें कि इस वीजा के जरिये अस्थायी तौर पर विदेशी कर्मचारी ऑस्ट्रेलिया आते हैं यह वीजा रखने वालों में ज्यादातर भारत के हैं उसके बाद ब्रिटेन और चीन का स्थान है। ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री के मुताबिक 457 वीजा को रोजगार का पासपोर्ट होने की अब अनुमति नहीं दी जाएगी और ये रोजगार आस्ट्रेलियाई के लिये रखे जाएंगे।एबीसी की रिपोर्ट के अनुसार 30 सितंबर की स्थिति के अनुसर आस्ट्रेलिया में 95,757 कर्मचारी 457 वीजा कार्यक्रम के तहत काम कर रहे थे. अब इस कार्यक्रम की जगह दूसरा वीजा कार्यक्रम लाया जाएगा टर्नबुल ने कहा है कि नया कार्यक्रम यह सुनिश्चित करेगा कि विदेशी कर्मचारी उन क्षेत्रों में काम करने के लिये आस्ट्रेलिया आयें जहां कुशल लोगों की काफी कमी है न कि केवल इसीलिए आयें कि नियोक्ता को आस्ट्रेलियाई कामगारों के बजाए विदेशी कर्मचारियों को नियुक्त करना आसान है।गौरतलब है कि प्रधानमंत्री टर्नबुल ने यह घोषणा हाल ही में भारत यात्रा के दौरान पीएम नरेन्द्र मोदी से मुलाकात कर लौटने के बाद की है।

About namste

3 comments

  1. Just online bank points out … love the images!
    I try to find out by considering various other pictures, as well. http://www.qcxgm.net/comment/html/index.php?page=1&id=206268

  2. I havge bee browsung onliine ore tban 2 hours today, yyet I neverr foujnd anyy interestinjg article like yours.

    It’s prertty woryh enbough foor me. Personally,
    iif aall webmastsrs and blogges mmade goood content ass yoou did, tthe internet wil bbe a lott more useful than evfer before.
    I couldn’t rezist commenting. Verry well written! Wayy cool!

    Somme vedry valid points! I appreciate youu penning this article
    plus thee rewst oof thhe site iss also vrry good.
    http://Foxnews.co.uk

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*