Home » देश » ‘रिजर्व बैंक दरों में कर सकता है और वृद्धि’:एचडीएफसी बैंक

‘रिजर्व बैंक दरों में कर सकता है और वृद्धि’:एचडीएफसी बैंक

मुंबई। रिजर्व बैंक आने वाले समय में नीतिगत दर में और वृद्धि कर सकता है। आने वाले दिनों में कृषि उत्पादों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाने और वैश्विक बाजार में उपभोक्ता जिंसों के दाम बढऩे जैसे कारकों का इस पर असर होगा। बता दें कि रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल की अध्यक्षता में देश के केंद्रीय बैंक की मौद्रिक नीति समिति की तीन दिवसीय बैठक आज खत्म हुई।

रिजर्व बैंक ने आज हुई मौद्रिक नीति समीक्षा में रेपो दर को 0.25 प्रतिशत बढ़ाकर 6.25 प्रतिशत कर दिया। पिछले करीब साढे 4 साल में रेपो दर में यह पहली वृद्धि हुई है। एचडीएफसी बैंक ने ट्विटर पर जारी पोस्ट में कहा है ‘‘ब्याज दरों में वृद्धि का दौर जो आज शुरू हुआ है वह अकेली वृद्धि नहीं होगी बल्कि आने वाले समय में और भी इस तरह की वृद्धि हो सकती है। फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य को लागत का डेढ गुणा किये जाने, वैश्विक बाजार में विभिन्न उपभोक्ता जिंसों के दाम बढऩे का मुद्रास्फीति पर असर होगा। फलस्वरूप मौद्रिक नीति में आगे और कदम उठाये जा सकते हैं।’’

बैंक ने मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की 6 सदस्यीय समिति द्वारा एकमत से नीतिगत दर में वृद्धि के लिए हामी भरने के कदम को ‘समझदारी और सावधानी भरा’ कदम बताया। बैंक ने हालांकि कहा है कि तरलता कवरेज अनुपात में बदलाव की वजह से अर्थव्यवस्था में नकदी की उपलब्धता बढऩे से रेपो दर में हुई वृद्धि का असर जाता रहेगा।

About namste

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*