Home » देश » दाऊद इब्राहिम का साथी फारुख टकला सीबीआई की हिरास्त में

दाऊद इब्राहिम का साथी फारुख टकला सीबीआई की हिरास्त में

मुंबई। मुंबई सीरियल ब्लास्ट का मास्टरमाइंड और पाकिस्तान की पनाहगाह में पल रहे दाऊद इब्राहिम के सबसे खास गुर्गों में से एक फारुख टकला को सीबीआई की टीम मुंबई ले आई है। उसे दुबई में गिरफ्तार किया गया था। 1993 में हुए बम ब्लास्ट के बाद उसके खिलाफ 1995 में रेड कार्नर नोटिस जारी किया गया था। गुरुवार सुबह ही उसे एयर इंडिया के विमान से मुंबई लाया गया है। फिलहाल उसे सीबीआई ऑफिस ले जाया गया है जिसके बाद उसे टाडा कोर्ट में पेश किया जाएगा।

बताते चलें कि 1993 के मुंबंई सीरियल ब्लास्ट का मास्टरमाइंड और भारत का मोस्ट वॉन्टेड दाऊद इब्राहिम भी सरेंडर करना चाहता है। यह सनसनीखेज दावा श्याम केसरवानी नाम के शख्स का है जो खुद को दाऊद का वकील बताते हैं। लेकिन सरकारी वकील उज्जवल निकम ने इसे दाऊद का पुराना स्टाइल बताया। कुछ वक्त पहले वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी भी एबीपी न्यूज से बातचीत में ये खुलासा कर चुके हैं कि दाऊद ने उनसे भी भारत आकर सरेंडर करने की बात कही थी लेकिन तब के नेताओं ने इस पर कोई एक्शन नहीं लिया।

गौरतलब हो कि दुनिया के सबसे बड़े अपराधियों में दाऊद को गिना जाता है। 2003 में अमेरिका ने उसे ग्लोबल टेररिस्ट माना। इंटरपोल उसकी तलाश में है। 2011 में फोर्ब्स ने उसे दुनिया के सबसे खतरनाक अफराधियों की सूची में रखा था। 26 नवंबर 1955 को दाऊद का जन्म महाराष्ट्र के रत्नागिरी नाम के इलाके में हुआ था। उसके पिता पुलिस में थे लेकिन पैसा कमाने के लिए उसने गलत कामों से परहेज नहीं किया। करीम लाला गैंग से आपराधिक करियर की शुरुआत करने वाला दाऊद अंडरवर्ल्ड का बेताज बादशाह बन गया। 12 मार्च 1993 को मुंबई में 13 जगह ब्लास्ट हुए, इन धमाकों में 350 लोग मारे गए। माना जाता है कि इन हमलों के पीछे दाऊद का हाथ था।

About namste

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*